बहन की गर्मी का इलाज

“मादरचोद माफी क्यो माँगते हो….जब अपनी बेटी की उमर की लड़की से शादी की थी तब क्यो नहीं सोचा…अपनी बेहन की लड़की की ज़िंदगी क्यो तबाह की जब उसको चोद नहीं सकते थे बेह्न्चोद…अब इस आग से दहक्ति चूत को कहाँ ले जाउ ठंडी करने के लिए….इसको कौन चोदे गा बेह्न्चोद की औलाद….तुम बस नाम के ही पति हो…आज शादी के तीन साल के बाद भी मुझे एक अच्छी चुदाई नहीं दे सके मादरचोद….अगर खुद नहीं चोद सकते तो मेरे लिए किसी बाहर के लंड का इंतज़ाम करो वरना मैं सारी दुनिया को बता दूँगी कि तुम नामर्द हो…मैं सालों से तड़प रही हूँ” मानसी अपनी चूत को अपने हाथों से रगड़ रही थी

.”रानी मैं अपना इलाज करवा रहा हूँ…कुच्छ दिनो में मेरा लंड तन जाए गा…मुझे कुच्छ वक्त चाहिए.”

मानसी जल गयी,” जब आदमी बूढ़ा हो जाए तो इलाज नहीं होता लंड का…जवान औरत को जवान मर्द ही छोड़ सकता है”

विष्णु मेरी बेहन को चोद तो नहीं सका लेकिन उसने पहले मानसी की चूत को अच्छी तरह चूमा और फिर उसकी जांघों को फैला कर अपनी दो उंगलियाँ मेरी बेहन की चूत में घुसेड दी. मानसी ने अपनी जांघे विष्णु के हाथ पर कस दी और अपने मस्त चूतर उठा उठा कर उंगली चोदन करवाने लगी. मानसी बड़बड़ाने लगी,” आआआआ…..पेलो मेरी चूत को….लंड तो तेरे पास नहीं है मामा…हाथ से ही चोद मुझे….हाईईईईई…ज़ोर से चोद अपनी भांजी की चूत…विष्णु मैं झाड़ रही हूँ ज़ोर से चोद मुझे.” मानसी उंगली से चुदाई करवाते हुए चीख रही थी और उसके चूतड़ पसीने से भीग रहे थे. मेरी बेहन अपनी चुचि को अपने हाथों में ले कर मसल रही थी. कुच्छ देर बाद मेरी बेहन शांत हो गयी. उधर मेरा लंड अपने बस में नहीं था और मैं ज़ोर ज़ोर से अपने हाथ से लंड मुठिया रहा था. मैं बहुत उतेज़ित हो चुका था और मेरे लंड ने पिचकारी छोड़ डाली.

यह कहानी भी पड़े  भाभी को प्रपोज़ कर के चुदाई

दूसरे दिन जब मैं सुबह उठा तो विष्णु जा चुका था और मानसी रसोई में नाश्ता बना रही थी. मेरी तरफ मानसी की पीठ थी और उसके मस्त चूतर का उभार मुझे उसकी सलवार में से दिखाई पड़ रहा था. अपनी बेहन की नंगी गान्ड की याद आ गयी और मेरा लंड फिर से तन गया . मैं चुपके से मानसी के पीछे जा कर खड़ा हो गया और उसके कंधे पर हाथ रख दिया. उसका जिस्म अब भी दहक रहा था. मैं उसके साथ पीछे से चिपक गया और मेरा लंड कड़ा हो कर मानसी के चूतड़ की दरार में चुभने लगा.

मेरी बेहन एक दम से पलटी और उसने अपना मूह मेरी तरफ घुमा लिया,” कौन…ओह अमर ये क्या कर रहे हो….तुम कब उठे अमर….अरे मैं तो नाश्ता बना रही हूँ….अमर बस करो” जब मानसी मूडी तो उसकी बड़ी बड़ी चुचि पर मेरा हाथ पड़ गया और उसकी कोमल चुचि ने मुझे पागल बना दिया..

मैं घबरा गया और माफी माँगते हुए बोला” सॉरी दीदी, मेरा इरादा आपको स्पर्श करने का नहीं था. मैं तो आपके कंधे पर लगा पसीना हटा रहा था….मानसी दीदी…आपका जिस्म तो आग की भट्टी की तरह दहक रहा है. आप खाना मत बनाओ…मैं खुद बना लूँगा…आप रसोई से बाहर चले जाओ.”

मानसी मुझ से अलग हो रही थी और उसकी आँखें झुकी हुई थी, उसका ब्लाउस उसकी गोरी गोरी चुचि से हट गया और मेरी दीदी की मस्त चुचि के दर्शन मेरी कामुक आँखों को होने लगी. दीदी की गोरी चुचि पर पसीने की बूँद शबनम की बूँद बन कर चमक रही थी और . हम भाई बेहन कुच्छ देर यूं ही चिपक कर खड़े रहे. मेरी दीदी का गदराया यौवन मेरे सीने में आग भड़काने लगा.” अमर, मेरे भाई तुझे कौन कौन सी गर्मी के बारे में बताऊ. मेरा तो सारा जिस्म जल रहा है. इस गर्मी का इलाज तो किसी के पास भी नहीं है. मेरी किस्मत में ऐसे ही जलना लिखा है.” मानसी बोली और मैने उसको और भी अपने नज़दीक ला कर आलिंगन में लेते हुए कहा” दीदी मैं मामा से कहूँगा कि वो आपके लिए एसी लगवा दे. फिर गर्मी का इलाज हो जाए गा. देखो कितना पसीना आ रहा है आपको” मैने मानसी की मस्त चुचि को अपने हाथों में दबाते हुए और भींचते हुए कहा. मेरा लंड अब दीदी की नाभि में घुसने की कोशिश कर रहा था.

यह कहानी भी पड़े  दोस्त की माँ ने चुदाई करवाई

“विष्णु से कुच्छ ना होगा, मेरे भाई….मेरे जिस्म में जो गर्मी है वो एसी से ठंडी नहीं होगी….अमर, तेरे जीजा के पास मेरी जलती जवानी को शांत करने वाला एसी है ही नहीं…इस जवानी को गरम एसी ही ठंडा कर सकता है जो उस बेह्न्चोद विष्णु के पास नहीं है…भाई तुम अभी छोटे हो…तुम नहा कर आओ मैं तेरे लिए नाश्ता बना देती हूँ.” दीदी बोली.

मैं समझ गया कि दीदी किस एसी की बात कर रही है. उसका मतलब था कि गरम लंड उसकी गरम चूत को ठंडा कर सकता है. औरत का गरम एसी मर्द का लंड ही होता है.” दीदी ये गरम एसी कौन सा होता है?”

Pages: 1 2 3 4 5 6

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


दुध।दबता।सेकसी।विडीयौshadi ke din dulhan didi ki nanad ki chudai sex storyपापा से सुहागरात मनाईsxyi storie hindhe busविधवा भाभी की बुर फाड़ चुदाईपजाबी लडकी ने बाबा दादी के गाँव जाकर गाँव के डेरी पर गाँव के एक लडके ने पजाबी लडकी की चूत चोदा Soteli Maa beta sex kahani new aug 2019www.antervasanasexstory.comChit ke andhar mutnaबहू कि शेकसि काँखमा और बहन कि चुदाई लम्बी सेक्सी कहानीया राज शर्माचाची रजाई में चुद गयी कहानीपयासा बदन हिन्दी से कसि विडियो www.antervasanasexstory.comससुर और पति हिंदी सेक्स स्टोरीantarvasna momBudde ke saath rangreliya manai storysexbaba ki chufai ki lambi kahaniyaहाये रे मार डालेगा क्या sex kahaniPage 1risto me sex hindi sex story and pic प्यास भुजाइ सेक्सी स्टोरीज इन हिंदीsabrina ki chudai ki kahani part 2sex story bhai se nikahचुदाइ होलि मेantervasna tournamentबाथरुम मे मूत रही लडकी को दखा ओर चोदा hindi six storyxxx marathi sexykahanenaukarani dada je xxx kahaniभैया कि रखैल चूदाई की कहानी सेक्सी स्टोरीज िन हिंदी २०२०thakur ki haveli incest storyबाजारु औरत की गांङ मारीtau bahu anter vasnaहिंदी सेक्स स्टोरी हरामी ने छोड़ाआरती की चुत की सील चोदी कहानीरिस्तों में मामी-भांजा चुदाईslander vale ne bhabhi ki chudai xxxmasi ki chudayi mosa ke sammeअन्तर्वासना सामूहिक दो परिवारससुरजी जोर से चौदोAntervasna Bilkul gandi khani pesab or tatiVidhwa Chut ki pyas nahi bhujiअन्तर्वासना कामिनी की चुदाईससुर बहु चुड़ै दिवाली पर हिंदी सेक्स स्टोरी कॉमकहानी जवाजवीbua ki chuxaiदीदी चुदाई कहानीहिन्दी माँ बेटा सेक्स स्टोरी .comहिँदि कहानी पटने वाला XXX मजेदार/Didi se mom ki cudai tak ka,sfar sex storyदेवर का मोटा लंबा लंड खाने की तैयारी चुदाई कहानीsexsi anty ne khulkar nahayaAntervasna ghar m bhaga bhaga kमजदूर की मस्त कहानियाँmeena boobsमममी बहन चूदीमामी मेरी पकड़ से छूटने के लिए छटपटाने लगीusha chudae khet meयास्मीन की चूत मरी javan savita bhabi Sexy Sadi phankar xxx photaMossi k chakar mai maa chuda sex storiesबहन भाभी कि चोली मे मुठ मारनाचोदनbhabhi ki gaanf maaristoryबीबी की चुदाई का सामूहिक. खेल कहानियोंसेक्स कहानियाँ बहन की मद्द से भाबी को चोदा तो चुत फट गयीपेटी ब्रा खरीदा मममि SEX STORIxxx सेक्सी कहानी भाभी डॉट कॉमगन्दी xxx उत्तेजक कहानी बीवी ने कहा मम्मी को चोदलो