मेरी मौसी सास को जमकर चोदा

मैनें चूत के छेद से एक इंच उपर यानी गांड के गोल छेद पर अपने लंड का सुपाड़ा टिकाया और सूजी के कुल्हे पकड़ कर जोर लगाया, चूत के रस से चिकना सुपाड़ा गांड के छेद को फैला कर थोड़ा सा अन्दर घुस गया, मैं मन में सोच रहा था की सूजी के मुंह से चीख निकल जायेगी, परन्तु ऐसा नहीं हुवा, उसने सिर्फ सिसकी भर कर अपना सीर ताना, तब मैनें अपना पुरा लंड उसकी गांड में सरका दिया,

इस पर भी जब सूजी ने तकलीफ जाहिर नहीं की तो मैं समझ गया सूजी गांड मरवाने की आदि है, उसने सिर्फ कस कर अपने होंठ भींचे हुवे थे, फिर भी मैनें पूछा,

” तकलीफ तो नहीं हो रही है ना सूजी,”

” नहीं तुम धीरे धीरे चोदते रहो,” उसने कहा तो मैं उसके गोल मटोल कुल्हे थपथपा कर धीरे से झुका और दोनों हाँथ निचे लाकर दोनों चुचियों को पकड़ कर उसकी गांड मारने लगा, थोडी देर बाद मैनें धक्के तेज कर दिये, मुझे तो उसकी चूत से अधिक उसकी गांड में अपना लंड कसा होने के कारण ज्यादा मजा आ रहा था, और जब मेरे धक्कों ने प्रचंड रूप धारण कर लिया तो सूजी एकदम से बोली,

” …बस…अब अपना लंड मेरी गांड में से निकाल कर मेरी चूत में डाल दो,”

” क्यों ” मैनें रुक कर पूछा,

” क्योंकि मैं तुम्हारा वीर्य अपनी चूत में गिरवाना चाहती हूँ,”

सुन कर मैं मुस्कुराया और अपना लंड गांड में से खिंच कर वापस उसकी चूत में घुसेड़ दिया, मैनें फीर जोर जोर से धक्के लगाने शुरु कर दिये थे, मगर इस बार सूजी को कोई परेशानी या दर्द नहीं हुवा था, बल्कि अब तो वो दुबारा मस्ती में भर कर अपने कुल्हे आगे पीछे ठेल कर मेरा पुरा साथ देने लगी थी, इतनी देर बाद भी मैं सूजी को मंजिल पर पहुंचा देने के बाद ही मैं झडा, सूजी भी कह उठी,

यह कहानी भी पड़े  मेरी फ़ुफ़ेरी बहन की शादी में उसकी चुत की चुदाई

” मर्द हो तो तुम जैसा, एकदम कड़ियल जवान,”

” और औरत हो तो तुम जैसी एकदम कसी हुई,” जवाब में मैनें भी कहा, फिर हम दोनों एक दुसरे की बाहों में समां गये,

मौसा जी को जहां दो दिन बाद आना था, दो दिन तो दूर की बात वो पुरे पांच दिन बाद आये,और उन पांच रातों का मैनें और सूजी नें भरपूर लाभ उठाया, सूजी हर रोज मेरी बीबी को नींद की गोलियां देकर सुला देती और हम दोनों अपनी रात रंगीन करते, मौसा जी के आने के बाद ही हमारा ये चुदाई का खेल रुका, इस बिच मौसी यानि सूजी बहुत उतावली रहती थी, वो मेरे एकांत में होने का जरा जरा सा बहाना ढुंढती थी,

मैं इस बात को उस वक्त ठीक से नहीं समझ सका की सूजी मेरी इतनी दीवानी क्यों है, क्या मौसा जी में कोई कमी है या वे इसे ठीक से चोद नहीं पाते? जबकि देखने भालने में वे ठीक ठाक थे,

सूजी मेरी इतनी दीवानी क्यों है? इसका जवाब मेरे दिमाग ने एक ही दिया की या तो वो मेरे लंड की ताकत से दीवानी हुई है या फिर मौसा जी उसे ढंग से चोद नहीं पाते होंगे, हम महिना भर वहाँ रहे, इस बिच हमने यदा कदा मौका देख कर चुदाई के कई राउंड मारे,

जब हम वहाँ से आने लगे तो सूजी ने मुझे अकेले में ले जाकर कहा,

” जल्दी जल्दी राउंड मारते रहना मुझे और मेरी चूत को तुम्हारे लंड का बेसब्री से इंतजार रहेगा,

मैनें इतनी चाहत का कारण पूछा तो उसने यही बताया की ” वे ” यानी की उसके पति उसे ठीक से चोद नहीं पाते, मेरा शक सही निकला, मौसा जी की कमी के कारन ही वो मेरी तरफ झुकी,

यह कहानी भी पड़े  मेरी सौतेली बहन की कामुकता

मेरा दिल भी उसे छोड़ कर जाने का नहीं कर रहा था, मगर मज़बूरी वश मुझे वापस आना पड़ा, आने के एक हफ्ता बाद ही मैं बीबी को बिना बत्ताये दुबारा सूजी के यहाँ पहुँच गया, वो मुझे देख कर बहुत खुश हुई,

मैं इस बार चार दिन वहाँ रहा और चारों दिन सूजी को खूब चोदा, क्योंकि मौसा जी के ऑफिस जाने के बाद मैं और सूजी ही घर में रह जाते और खूब रंगरेलियां मनाते, अब तो मेरी बीबी का भी खतरा नहीं था, मौसा जी को भी हम पर कोई शक होने वाला नहीं था, क्योंकि रिश्ते के हिसाब से मैं सूजी का दामाद हूँ, मौसा जी भी मुझे दामाद जैसी इज्जत देते,

इसी का फायदा उठा कर मैं हर महीने सूजी के यहाँ जाकर पूरी मौज मस्ती करके आता था, हमारा ये क्रम पांच महिने तक चला, उसके बाद जब एक महिने पहले सूजी के यहाँ पहुंचा तो उसका ब्यवहार देख कर मैं बुरी तरह चौंका, वो मुझे देख कर जरा भी खुश नहीं हुई और ना ही मुझसे एकांत में मिलने की कोई कोशिश की, और जब मुझे बहुत ज्यादा परेशान देख कर मुझसे मिली तो उसके चेहरे पर सदाबहार मुस्कान की जगह रूखापन था, मैनें इसका कारण पूछा, और उसने जो कुछ मुझे बताया उसे सुन कर तो मेरे पैरों के निचे से जमीन ही निकल गई, उसने बताया की…

Pages: 1 2 3 4 5 6

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


anjarwasna com maa bhabhi bahan bowa chachi mamiभैया उईई फक मी सेक्स स्टोरीट्रेन में चुदाई कहानी देवर भाभि की से कसिAntarvasna vivsvidhwa bhabi ki ubhri jawani kahanimasi ko sukh diyaअंतर्वासना की कहानी मां की च**** चिराग और कमलाSarabi pati ka sexxxx ki kahneeखूबसूरत गांड़ की चुदाई कहानियांखाल्ला ने चुत चुदवाईटिचर बोली मुझे दो मोटे लँड से चोदोsexfufaBahi bahn xxx hinde kahneya sil pakChuddakd बन गई माँ partssexy chudiya kese krte h fudi mrbane bali vediosxyi storie hindhe busसामूहिक merivasnaसफर मे चुदाई कहनीगोवा मे बहन से चुदाई के मजेचूदाईब्लूVivi ni afir sex Hindi kahaniसेकस कयाहैमैंने अपने दोस्त को चोदा Nehabhai bahan ki rajai me chudai xxx hindi storyMummy toilat m porn movie dekhti hindi chut chudai kahaniभाभी चुदाइ सोने की नथमेरी चूत मे मोटा ओर बडा लन्ड डाला हिन्दीमौसि के chakkar me maa ko chod diya sex ki sachi kahaniya.inxxx biwibaap ne beti ko chodakatham bua sex stori hinditau ki ladki ko us k sasural me sex storyJawan ladki ki chudaiChachi ko chacha ke samne choda2xxxsuhagrat story writtsasur ke saamne aung pradarsan ki sexy kahaniyaSex video bhabhine kiya baik mailsexy puja babbhi ke sath honeymoon sex story hindirupali didi xxx storiमाँ की इच्छा पूरी की अन्तरवासनचूची सहायताwww.hindisexystory.rajsarmaपापा और उनके दोस्तो के साथ सामूहिक छुड़ाईअंजाने में बहन ने ही चुदवाया पूरा परिवारmumiy or mosa ji ka milan chudai sax storiहिनदि।शेकसि।भभि।के। चोद ईmere land par chot lag gai maa ne malish kimera randipan sex storygunde ne jeberdasti choda hindi sex storyvidhwa bhabi ki ubhri jawani kahanimaa kspyar sax storiMa ka lowda xxx kahanididi ki chudai turak me kahanisamdhi ne samdhan ko choda Hindi sex storiesमम्मी चुदी अनजान सेdidi ne anjane me mujhse chudwaya sex storyNakhareli mami ki chudaiसगी छोटी बहन की सिल तोड सुहागरात रात मनाईदीदी पयार करो ना rajsharma sex khaniAditya ne aunty Ko choda storyबहिन की छुड़ाई बॉस ने कि होली मेंगुंडों से गाँड की सेकसी कहानीसास आणि बहू कि चुदाईट्रेन मे रोशनी की चुदाईबेटी की अदला बदली कर चदाई किए पापा चुदासी कहानीआंटी पैंटी पेट मालचुदाई की अलग अलग तरीके की कहानियाँxxx bfeola sal ki ldkiki istoriमेडम की चुतत मे लण्ड धासा कहानीSadi suds orat ki chodar kahani hindi maitrien me mera gangbang fir room me antarvasna.com