सहेली के भाई से चुदाई करवा बैठी

दोस्तो, आप सबको मेरा नमस्कार!
मैं आप सबके लिए आज एक और नई कहानी लेकर आई हूँ. आप सबने मेरी पिछली कहानी
बुआ के बेटे ने चोद दिया
को बहुत प्यार दिया, उसके लिए धन्यवाद. मैं अन्तर्वासना की सारी कहानियों को पढ़ती हूँ और मुझे अन्तर्वासना की सारी कहानियां बहुत अच्छी लगती हैं.

मेरी एक सहेली है, जो मेरे साथ बहुत अतरंग है. हमें कोई भी काम होता है, तो हम दोनों सखियाँ साथ में बाजार जाती हैं. हम दोनों बचपन से ही बहुत अच्छे फ्रेंड हैं. मेरा मेरी सहेली के घर आना जाना लगा रहता है और वो भी मेरे घर आती रहती है.

मेरी सहेली के घर में उसका भाई भी रहता है, जो मुझे बहुत अच्छा लगता है. लेकिन वो मेरी सहेली का भाई है इसलिए मैं उसको ज्यादा ध्यान नहीं देती हूँ. हम दोनों लोग बस एक दूसरे को देख कर थोड़ा सा मुस्कुरा देते हैं. मुझे पता है कि वो मेरे जिस्म का दीवाना है क्योंकि मैं जब भी अपनी सहेली के घर जाती हूँ तो वो किसी न किसी बहाने से मेरी सहेली के कमरे में आता है और मुझसे बातें करने की कोशिश करता है. वो मुझसे बातें करते करते वो मेरी चुचियों को भी बड़े ध्यान से देखता है.

मैं वैसे बहुत कमाल की लड़की हूँ. मैं जब चलती हूँ, तो मेरी गांड ऊपर नीचे होती रहती है, जो लोगों का दिल मचला देती है.

मेरी सहेली का भाई थोड़ा शरारती भी है. मेरी सहेली जब काम करने के लिए किचन में.. या घर में ही कहीं चली जाती है, तो वो मुझसे डबल मीनिंग में बातें करता है.

मेरी सहेली एक अमीर परिवार से है, इसलिए मैं उसके घर थोड़ा ज्यादा जाती हूँ. मेरी सहेली भी मेरी तरह लंड की दीवानी है. हम दोनों ने बहुत बार कॉलब्वॉय के साथ भी सेक्स किया है.

यह कहानी भी पड़े  पड़ोस की हॉट भाभी की साथ सेक्स

मेरी सहेली अक्सर किसी नए कॉलब्वॉय बुलाती है, जब उसके घर कोई नहीं होता है. हम दोनों लोग एक साथ एक ही बिस्तर में एक ही लंड से चुदवाती हैं. हम दोनों सहेलियों ने तय किया था कि अपनी चूत की खुजली मिटाने के लिए ऐसे कॉलब्वॉय को बुलाया करेंगी, जिसका लंड एक्स्ट्रा लॉन्ग न हो. क्योंकि हम लोग जवानी में ही अपनी चुत का भोसड़ा नहीं बनवाना चाहते थे. नई नई उम्र के लौंडे हम दोनों को ही ज्यादा पसंद आते थे.

मेरी सहेली का भाई भी अपने बाप के पैसों पर ऐश करता है. वो मुझे हमेशा चोदने के लिए लाइन मारता रहता था.

एक दिन मैं अपनी सहेली के घर रात को रुक गयी. मेरी सहेली सो रही थी.. और मैं बाथरूम से नहाकर बाहर निकली तो देखी कि मेरी सहेली का भाई मुझे तौलिये में देख रहा है. मैं उस वक़्त केवल एक तौलिये में थी. वो किसी काम से अपनी बहन यानि मेरी सहेली के कमरे में आया था और उसने मुझे एक गीले तौलिये में देख लिया.

इस वक्त मैं नहाकर बाहर निकली थी तो मेरे बाल भी गीले थे और मैं बहुत सेक्सी लग रही थी.

वो मुझे देख कर कमेंट करने लगा- अगर तुम्हारी जैसी मेरी गर्लफ्रेंड हो होती नेहा.. तो अब तक मैं पता नहीं उसके साथ क्या कर चुका होता.

उसका मतलब सेक्स करने से था. मैं उसकी सारी बातें समझ रही थी. वो मुझे गीले तौलिये में देख कर गर्म हो रहा था. मैं पतले वाले गीले तौलिये में थी तो मेरी चूची के उभार थोड़े साफ़ दिख रहे थे. जिससे मेरी सहेली का भाई मेरी चुचियों को देख कर ललचा रहा था. वो मेरे करीब आने की कोशिश कर रहा था.

यह कहानी भी पड़े  डिवोर्सड आंटी ने लंड चूसा मेरा

वो मुझसे बातें करते करते हुए मेरे करीब आ गया. चूंकि मेरी सहेली अपने कमरे में गहरी नींद में सो रही थी. इसलिए उसका भाई ने मेरे हाथ को पकड़ लिया और अपने हाथों से उसे सहलाने लगा.

मैंने उसे नहीं रोका, वो थोड़ा ज्यादा उत्तेजित हो गया था और मैं भी धीरे धीरे उसके हरकतों से उत्तेजित होने लगी थी, सो उसका साथ देने लगी.

मैं अभी अभी नहाकर बाथरूम से आई थी और मेरे जिस्म की खुशबू उसको पागल बना रही थी. मेरे जिस्म की खुशबू से वो मस्त हुए जा रहा था. वो मेरे जिस्म को कुत्ते की तरह सूंघ रहा था. कुछ ही पलों में वो मेरे जिस्म की खुशबू से पूरा मदहोश हो गया था.

वो मुझे अपने कमरे में ले गया क्योंकि मुझे भी अपनी सहेली के भाई से खुल कर चुदवाने का मन था. आज मुझे अपनी चुत चुदवाने के लिए फ्री में नया लंड मिल रहा था, तो मैं भी अपनी सहेली के भाई के कमरे में चली गयी.

मैं भी कॉल ब्वॉय से चुदवाकर परेशान हो गयी थी. मुझे कोई घर का आदमी चाहिए था, जिससे मैं रोज चुदवा सकूं. आज मुझे मौका मिला गया था तो मैंने इस मौका का फायदा उठा लिया. उसके कमरे में जाकर जब मैंने उसके लंड की तरफ देखा, तो पाया कि उसका लंड एकदम उसके पेंट में खड़ा था. जिसको देखकर मैं भी उत्तेजित हो गयी.

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


सगे बाप को चूदाई का सुख कहानियांhttps://www.sucksex.com/hindi/ chut chudai bhacha paida kiyaincest/mama-ke-ghar-me/चूत और गांड दोनों चोदा करवाचौथ पे अपनी भाभी कोboor se pesab sex storiesDidi ko kursi pe chodaबाबा के सेक्सी कहानी लेटेस्ट६० साल की छीनाल चाची की गंदी गाड मारने की कहानीयाxxx in hindi story mom baat ankle land khet patiसेक्स 40साल की बिबि ने नोकर से चुदाया कहनि भेजेSexstory badylund chod chod kar burahaal kia hindiननद और भौजाई की चुदाई की कहानियांपरिवार मे चुदाई - ये कैसा ससुरालdidi ke kankh par baalमेरी गांड भी बहुत ही बुरी तरह से मारता थाxxx vidioसबके सामने कियाSax girlfrando ko bajaya ki kahany hindiborwap desi bur cudayiहिनदि सेकशि ।मैसि के चोद ईLand to kamal ka h hindi khahniPhele chdaexxxnokrani ne 69 position me chusa xxx khaniविधवा आणि नोकर सेक्स कथा सोती हुई के पीछे गुसा दीया कहानीसब ने चोदा गालिया देकरपास करने के लिए सर ने गांड माँगीaadivasi larki ko choda storyचुदाई की आदतMausi ko pergnt banayaचुचीSuhagrat ki sexy video Dheere Dheere Kapda UtaraDasibees hinde six com.रामु काका ने चोदा हिंदी सेक्सी स्टोरीChudai gadvalan aunty ki hindi m storyहिन्दी मे उच्च स्वर मे चुदाईचूत चुदाईchuddakd pariwar me chudai ki samuhik khaniIndian sex बाथरूम पडोसन काँल बाँयdamdar sudai nage kisuhagrat ko mila dhoka sexi hot hindi storisरस भरी चोदाई कहानीआंतों की गांड कैसे मारामनीषा क साथ अंतर्वासनाकच्छा उतार के च**** भाभी की हिंदी मेंbhabhi ki gaanf maaristoryबीवि की सहेलि ओर दोसत के साथ गुरुप सेकसrajsharma maststorychudy vishana holi didi ne chudy sexhinde kahanididi ko ma samajh kr dod pikr choda antarvasnaबहु की बुरा सास का भोसड की सेकसी कहानीटट्टी सेक्स स्टोरीज कॉमहिरोइन रेखा कि बुरी की चुदाईPati patni ki alagsex krne ki khaniyawww chudai ka10 modalnatkhat bahu kamuktaहमे देवरो ने खुब चोदाबरसात मे मामी को चोदाbahan ka ilaj sex storyBhai bahain ma beta par adharit sexe kahaneलँड का सुपाङा बाहर कैसे निकालेmomke shath chupa chupi ka khel hindi sex storyxxxxxbedeopotoपहली बार लं ड मुंह में लिया और चूसने लगी मजे सेSex ki kahani chachi khet me mutane baithiसेक्सी स्टोरीज गुप्त रोग डाँक्टर को चोदाkachchi chut our jalim land mamu ka sex kahanimomnew ki antarvasana in hindi kahaniyachalu chchi xx kahanimummy ko lala g ne choda pesoo ke bdle sex storesसफर में चुदा़यी