सुष्मिता भाभी की चुदाई कहानी – 2

क्रमशः……………..

गतान्क से आगे…………..

मैं एक लग्षुरी नाइट कोच से सुष्मिता के साथ काठमांडू से लौट रहा था.होटेल से निकलने के पहले सुष्मिता ने नहा कर काफ़ी आकरसाक मेकप किया था. उस ने गुलाबी रंग की सिल्क सारी और उस से मिलते रंग की ब्लाउस पहन रखा था. ब्लाउस का गला आगे और पिछे दोनो तरफ से काफ़ी बड़ा था जिस से उस के पीठ का अधिकांस हिस्सा खुला हुवा था. ब्लाउस के आगे के लो कट यू-शेप के गले से उस की चूचियों का कुच्छ हिस्सा झलक रहा था. ब्लाउस के अंदर पहने उसके ब्रा का पूरा नकसा ब्लाउस के उपर से साफ दिख रहा था. टाइट ब्लाउस में कसे होने के कारण उस की चूचियों के बीच एक लाइन बन गयी थी. सारी और ब्लाउस में कसमसाती उस की चूंचिया काफ़ी सुडौल और आकरसाक लग रही थी. उन्हें देख कर किसी भी मर्द का मन उन्हें कपड़ो के बाहर देखने को तडपे बिना नहीं रह सकता. गले में उसने सोने का चैन और चैन में एक आकरसाक लॉकेट पहन रखा था जो उस की चूचियों के उपर लटक रहा था. कानों में सुंदर सोने की बलियाँ और नाक में सोने का नथ उस की सुंदरता को और बढ़ा रहे थे. उसने अपनी दोनो बाँहों में सारी से मॅच करते रंग की सुंदर चूड़ीयाँ पहन रखी थी. उस की दोनो हथेली आकरसाक डिज़ाइन में लगी मेहंदी से सजी हुवी थी और उस के हाथों और पाँवों के नाखूनों पर गुलाबी नाइल पोलिश लगी हुवी थी. उस ने अपने पाओं में घुंघरू दार चाँदी की पायल पहन रखी थी. इस तरह चलते वक्त उस की पायल के घुंघरुओं से छम छम का मधुर संगीत बज उठता था और जब कभी वो अपने हाथों को हिलाती थी तो उस की बाँहों की चूड़ीयाँ खनक कर वातावरण को मधुर तरंगों से भर देती थी.उसने मेक-अप भी काफ़ी आकरसाक ढंग से किया था. उस के गोरे गाल महँगा क्रीम लगा होने से और सुंदर लग रहे थे तो वहीं होंठों पे लगा लिपस्टिक उस के होंठों की सुंदरता को और बढ़ा रहा था. .. उस के माथे पे लगी बिंदी और माँग में सजी सिंदूर उस के रूप को ऐसे चमका रहे थे जिसे देखने के बाद उसके सुंदर मुखड़े को छुने और चूमने को कोई भी व्याकुल हो जाए. जब वो अपनी बलखाती चाल के साथ टॅक्सी से उतर कर अपनी कमर मतकती बस में सवार हुई तो लोग उसे देखते रह गये. मुझे पूरी उम्मीद है कि आसपास के सभी मर्द उसे छुने और कम से कम एक बार उसे चोदने की लालसा ज़रूर किए होंगे. आस पास की औरतों और लड़कियों को उस के हुस्न से ज़रूर जलन हुई होगी.

यह कहानी भी पड़े  रिच आंटी जवान लंड की भूखी

लेकिन इन बातों से बेख़बर वो अपनी कमर मतकती हुई बलखाती चल से चलती हुई बस में सॉवॅर हो कर अपनी सीट पे बैठ गयी और उस के पिछे पिछे चलते हुवे मैं भी उस के बगल वाली सीट पे बैठ गया. बस के अंदर भी हमारी सीट के आस पास बैठे लोग एक दूसरे की नज़र बचा कर अपनी आँखों से उस की सुंदरता के जाम को पी रहे थे. हमारी सीट से आगे के रो में बैठे लोग बार बार पिछे मूड कर उसे देख लेते थे, मानो ऐसा करने से उन की आँखों और दिलों को ठंढक पहुँच रही हो. हमारी रो में ऑपोसिट साइड की सीट पे दो सुंदर लड़कियाँ बैठी हुई थी और वो भी कभी कभी मूड कर सुष्मिता और मेरी तरफ देख लेती थी. बस अपने निर्धारित समय से रात के 9 बजे चल पड़ी. बस चलने के बाद करीब एक घंटे तक बस के अंदर की लाइट जलती रही और इस बीच लोग बार बार उस की सुंदरता को अपनी आँखों से पीते रहे. करीब दस बजे कंडक्टर ने बस की सारी बत्तियाँ बुझा दी जिस से बस के अंदर अंधेरा च्छा गया. अंधेरे में कुच्छ देर तक लोगों की बात चीत के आवाज़ आती रही और करीब 10 बजते बजते बस के अंदर बिल्कुल खामोसी च्छा गयी. . मैं इसी मौके के इंतजार में था. मैने सुष्मिता को अपने पास खींच लिया और खुद भी थोडा खिसक कर उस से सॅट गया. मैने अपने दाहिने हाथ में उसका बायां हाथ ले लिया और उसके हाथ को अपने हाथों से सहलाने लगा. मेरे अंदर इस से सनसनी बढ़ती जा रही थी. मैने उसे अपनी गोद में खींच कर उसके मुखड़े पे एक चुंबन जड़ दिया. अब मैने अपने दाए हाथ को उस के कंधे पे रख कर उस के कंधे और नंगे पीठ को सहलाने लगा. थोड़ी देर में मेरा हाथ फिसलता हुवा उस की दाहिने चूची पे पहुँच गया और मैं उसे ब्लाउस के उपर से ही सहलाने लगा. चूची को सहलाते सहलाते कभी कभी मैं उसे जोस से दबा देता था. अब मेरा लंड पॅंट के अंदर पूरी तरह खड़ा हो कर तेज़ी से फुदकने लगा था. मैने उसके बाएँ हाथ को अपने बाएँ हाथ से पकड़ कर अपने लंड पे खींच लाया. वो अपने हाथ से पॅंट के उपर से ही मेरे लंड को दबाने लगी. मैं अपने बँये हाथ को उस की जांघों पे रख कर उन्हे सहलाने लगा. मेरा दाहिना हाथ लगातार उस की चूंचियों पे फिसल रहा था. मैं सुष्मिता की चूचियों और जांघों को सहला रहा था और वो मेरे लंड को अपने हाथों से मसल रही थी. रात अब काफ़ी बीत चक्का था और मार्च का महीना होने के कारण अब हल्का ठंड महसूस हो रहा था जिस का फ़ायडा उठाते हुवे बॅग से हमने एक चदडार निकाल कर उसे अपने जिस्मों पर डाल लिया. हमारे जिस्म अब चदडार से पूरी तरह धक गये थे. जिस्म पे चदडार डालने के पिच्चे ठंड तो सिर्फ़ एक बहाना था क्योंकि इतना ज़्यादा ठंड भी नहीं पड़ रहा था की बिना चदडार के काम ना चल सके. हमने तो चदडार का इस्तेमाल सिर्फ़ खुल कर एक दूसरे के बदन का लुत्फ़ उठाने के लिए किया था.

यह कहानी भी पड़े  मासूम गर्लफ्रेंड की जोरदार चुदाई कहानी

Pages: 1 2 3 4 5 6 7

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


Gand marny ka shitaeka hindeमम्मी के मांसल चूतड़ों की दरार भी साफ दिखाईneelu biwi ki chudai indian sex baxaar xxx kahanixxx bfeola sal ki ldkiki istoriमा को पेशाब करते हुए गैर ने धेखा के चोदा कहानीbari didi ne apne bhanje se chudwai xxx porn vdoKchi umr xxxnबुर लंड घुसाने की कविताxxx marathi sexykahaneमाँ के देहांत बाद बचपन से मौसी लंड की तेल मालीश करती चुदाई की कहानीयाjhajme ladki ko codaachanak sote huye xxnsex रात में बहन के कमरे में घुस के चोदने का पोर्न वीडियोआटी कि चुद मारी मका के खुत मेबाई कि चडडी उतारी चूदाईkachi umar ki kamuktaraas or nokrani ki chudai ak sathशादी में घमासान चुदाईडिवोर्स आंटी की सेक्सी कहानियाचुदाने का आदत बिबिक्सक्सक्स फॅमिली जलती से चूड़ी हिंदी कहानीxxxkitaab.hindi.fullantarvasna tubewel me bahen ko choda kahaniLisban sex story in hindimeri chudked didirinababi kixxxAntarvashana anti ke shath motiमै ...अपना लण्ड निकालकर पेशाब कर रहा था तो दीदी ने मेरा लण्ड देख लिया कहानीNadi mai facha fach chudaiHindi ma beta gandi gali waili gandi antarvasana chudai storyRajayi ke niche sexxxx video आआआआहह।fooji ki waif ki chud mariचोदो और चोदते रहो चुटकलेँदादी की गाङ मारीammy chudwati rahati thi mai chup chup kar dekhata rahata tha hindi sex kahani rajsharmaबूब मस्ती इन बस स्टोरी इन हिंदीKachchi kali ko khilaya pornलन्ड का सूपड़ा ही घुस पाया मेरी चूत मैंसारदी मे चुदी रात भर की कहानीमेरी बुरdevar se chudwakar uske bache ki MA bani antarvasna Hindi audio sex storieमममी बहन चूदीsikandar and lovely ki chudai xxx kahaniबीवी कि गैर मर्दो से चुदाईMaul me mammy ki chudai storyHaay daiya kya land hai kahanima ko dosto se chudbaya stiree partee meब्वायफ्रेंड का लंड.comgirl ko toilet par dakahaकाँख बाल चाटाdost ki ma fufa ko chodachodayboorbathroom me kapade badalati ladkiya x kahani hindichoot me मक्खन डालनाबेहेन को चोदतिनो बहनो कि सेकसSexkahani samast familyबुर बहिन के चकरे मे दिदि को पेला कहानिstory in hindi jab mene chachi ko choda garmi mesheela ki sasurji se chudai sex storiesbua ko rat mai khaniyaxxx sex sexey lhanei mama se chudwai pregnant huiदीदी जीजाजी मॉम डैड की चुदाई स्टोरीजudaypur me vidhwa ma ko chodaमा रोज चुदवाती हैghaghara me chudai hindi storydonolandchutmainरस्सी से बाँध के चोदा सैक्स कहानीपापा के बॉस को अपनी जवानी दिखाकच्ची उम्र मे शील तोड़ी स्टोरीचुद गई बहना धोखे से घर मेफनफनाते लंठ और बुर पर शायरीchacha ke bache ki maa bani sex storyछाया दीदी की चोदन की कहनी चुत चुदाई माँ का मुत पिकर कहानीअंतरवाशना बाथरुम मे पडी पैँटी मेँ मुठ मारी बहेन कीअनजाने में माँ की चुदाईजिजानेशालिकिट्रेन मे रोशनी की चुदाईporn thakur ki haveli me sexstories in hindiचुदाई की कहानियांअनकंट्रोल सेक्सीय माँ स्टोरीय सेक्स वीडियोहिंदी सेक्स स्टोरी walnisexxदोनो ने बड़ी बेरहमी से पेलाma or papa chudikahneantarwashna jabardashti gand mariभैया मामू ने मिलकर मेरी चूत को चोदा सेक्स फोटोगालियों भरी हिन्दी सामुहिक सैक्स कहानीचुदक्कड बुर कि कहानि ।चूत चूतDAwar babavi saxy hindi adeokali chut vali orat ki kahaniDeshibees.comwww hindi sex stoyarasकामवाली की चुदाइ पकडी गरम कहानीअनिता भाभी की च**** कहानी