सुष्मिता भाभी की चुदाई कहानी – 2

क्रमशः……………..

गतान्क से आगे…………..

मैं एक लग्षुरी नाइट कोच से सुष्मिता के साथ काठमांडू से लौट रहा था.होटेल से निकलने के पहले सुष्मिता ने नहा कर काफ़ी आकरसाक मेकप किया था. उस ने गुलाबी रंग की सिल्क सारी और उस से मिलते रंग की ब्लाउस पहन रखा था. ब्लाउस का गला आगे और पिछे दोनो तरफ से काफ़ी बड़ा था जिस से उस के पीठ का अधिकांस हिस्सा खुला हुवा था. ब्लाउस के आगे के लो कट यू-शेप के गले से उस की चूचियों का कुच्छ हिस्सा झलक रहा था. ब्लाउस के अंदर पहने उसके ब्रा का पूरा नकसा ब्लाउस के उपर से साफ दिख रहा था. टाइट ब्लाउस में कसे होने के कारण उस की चूचियों के बीच एक लाइन बन गयी थी. सारी और ब्लाउस में कसमसाती उस की चूंचिया काफ़ी सुडौल और आकरसाक लग रही थी. उन्हें देख कर किसी भी मर्द का मन उन्हें कपड़ो के बाहर देखने को तडपे बिना नहीं रह सकता. गले में उसने सोने का चैन और चैन में एक आकरसाक लॉकेट पहन रखा था जो उस की चूचियों के उपर लटक रहा था. कानों में सुंदर सोने की बलियाँ और नाक में सोने का नथ उस की सुंदरता को और बढ़ा रहे थे. उसने अपनी दोनो बाँहों में सारी से मॅच करते रंग की सुंदर चूड़ीयाँ पहन रखी थी. उस की दोनो हथेली आकरसाक डिज़ाइन में लगी मेहंदी से सजी हुवी थी और उस के हाथों और पाँवों के नाखूनों पर गुलाबी नाइल पोलिश लगी हुवी थी. उस ने अपने पाओं में घुंघरू दार चाँदी की पायल पहन रखी थी. इस तरह चलते वक्त उस की पायल के घुंघरुओं से छम छम का मधुर संगीत बज उठता था और जब कभी वो अपने हाथों को हिलाती थी तो उस की बाँहों की चूड़ीयाँ खनक कर वातावरण को मधुर तरंगों से भर देती थी.उसने मेक-अप भी काफ़ी आकरसाक ढंग से किया था. उस के गोरे गाल महँगा क्रीम लगा होने से और सुंदर लग रहे थे तो वहीं होंठों पे लगा लिपस्टिक उस के होंठों की सुंदरता को और बढ़ा रहा था. .. उस के माथे पे लगी बिंदी और माँग में सजी सिंदूर उस के रूप को ऐसे चमका रहे थे जिसे देखने के बाद उसके सुंदर मुखड़े को छुने और चूमने को कोई भी व्याकुल हो जाए. जब वो अपनी बलखाती चाल के साथ टॅक्सी से उतर कर अपनी कमर मतकती बस में सवार हुई तो लोग उसे देखते रह गये. मुझे पूरी उम्मीद है कि आसपास के सभी मर्द उसे छुने और कम से कम एक बार उसे चोदने की लालसा ज़रूर किए होंगे. आस पास की औरतों और लड़कियों को उस के हुस्न से ज़रूर जलन हुई होगी.

यह कहानी भी पड़े  रिच आंटी जवान लंड की भूखी

लेकिन इन बातों से बेख़बर वो अपनी कमर मतकती हुई बलखाती चल से चलती हुई बस में सॉवॅर हो कर अपनी सीट पे बैठ गयी और उस के पिछे पिछे चलते हुवे मैं भी उस के बगल वाली सीट पे बैठ गया. बस के अंदर भी हमारी सीट के आस पास बैठे लोग एक दूसरे की नज़र बचा कर अपनी आँखों से उस की सुंदरता के जाम को पी रहे थे. हमारी सीट से आगे के रो में बैठे लोग बार बार पिछे मूड कर उसे देख लेते थे, मानो ऐसा करने से उन की आँखों और दिलों को ठंढक पहुँच रही हो. हमारी रो में ऑपोसिट साइड की सीट पे दो सुंदर लड़कियाँ बैठी हुई थी और वो भी कभी कभी मूड कर सुष्मिता और मेरी तरफ देख लेती थी. बस अपने निर्धारित समय से रात के 9 बजे चल पड़ी. बस चलने के बाद करीब एक घंटे तक बस के अंदर की लाइट जलती रही और इस बीच लोग बार बार उस की सुंदरता को अपनी आँखों से पीते रहे. करीब दस बजे कंडक्टर ने बस की सारी बत्तियाँ बुझा दी जिस से बस के अंदर अंधेरा च्छा गया. अंधेरे में कुच्छ देर तक लोगों की बात चीत के आवाज़ आती रही और करीब 10 बजते बजते बस के अंदर बिल्कुल खामोसी च्छा गयी. . मैं इसी मौके के इंतजार में था. मैने सुष्मिता को अपने पास खींच लिया और खुद भी थोडा खिसक कर उस से सॅट गया. मैने अपने दाहिने हाथ में उसका बायां हाथ ले लिया और उसके हाथ को अपने हाथों से सहलाने लगा. मेरे अंदर इस से सनसनी बढ़ती जा रही थी. मैने उसे अपनी गोद में खींच कर उसके मुखड़े पे एक चुंबन जड़ दिया. अब मैने अपने दाए हाथ को उस के कंधे पे रख कर उस के कंधे और नंगे पीठ को सहलाने लगा. थोड़ी देर में मेरा हाथ फिसलता हुवा उस की दाहिने चूची पे पहुँच गया और मैं उसे ब्लाउस के उपर से ही सहलाने लगा. चूची को सहलाते सहलाते कभी कभी मैं उसे जोस से दबा देता था. अब मेरा लंड पॅंट के अंदर पूरी तरह खड़ा हो कर तेज़ी से फुदकने लगा था. मैने उसके बाएँ हाथ को अपने बाएँ हाथ से पकड़ कर अपने लंड पे खींच लाया. वो अपने हाथ से पॅंट के उपर से ही मेरे लंड को दबाने लगी. मैं अपने बँये हाथ को उस की जांघों पे रख कर उन्हे सहलाने लगा. मेरा दाहिना हाथ लगातार उस की चूंचियों पे फिसल रहा था. मैं सुष्मिता की चूचियों और जांघों को सहला रहा था और वो मेरे लंड को अपने हाथों से मसल रही थी. रात अब काफ़ी बीत चक्का था और मार्च का महीना होने के कारण अब हल्का ठंड महसूस हो रहा था जिस का फ़ायडा उठाते हुवे बॅग से हमने एक चदडार निकाल कर उसे अपने जिस्मों पर डाल लिया. हमारे जिस्म अब चदडार से पूरी तरह धक गये थे. जिस्म पे चदडार डालने के पिच्चे ठंड तो सिर्फ़ एक बहाना था क्योंकि इतना ज़्यादा ठंड भी नहीं पड़ रहा था की बिना चदडार के काम ना चल सके. हमने तो चदडार का इस्तेमाल सिर्फ़ खुल कर एक दूसरे के बदन का लुत्फ़ उठाने के लिए किया था.

यह कहानी भी पड़े  मासूम गर्लफ्रेंड की जोरदार चुदाई कहानी

Pages: 1 2 3 4 5 6 7

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


bhanse ke sath chudai kahaniSexkahanilesbianरंडी सौतेली विधवा माँ को चोदकर उसका पति बनाचोदammi beta muslim ammi vidhwa hu kahani xxx hindiantarasana storiesपति के बगल में सोते हुए दूसरा पति एक्स एक्स एक्स वीडियो डॉट कॉमजवान लडकी की चुदाइDharmik sas aur naukar ki sex storyनँगी करके चोदते गुरुप मे कथामाँ गांड फैलाते बेटाlarki ke tuliya ke andar usko khub chudai and chudai chudae hindi joxsहिंदी सेक्स स्टोरी चुभने लगाजेठाजी ने,बहू कि चूत मे लड,दियाअपने दोस्त की माँ को चोदारिता कि चुदाईDost ko nasha ka k choda xxjudava sex stori hindi meबहन भाभी कि चोली मे मुठ मारनाammisexstorix waif कि कहानी पढने के लिएtrain सेक्स कहानियाँ हिन्दी बीवी भुवा और पराया आदमीNukrani sex satory hindiदीदी चूत दिलवा दोmaa bhin samuhik marathi sex stories.चूची सहायताSaxxe kahhane rastay keSabke sone ke bad aanty ne chut Di Hindi sex storydubai se aai DiDi ki chuai bhibdi sex storyसेक्सकी डोका सतKhalkhal.ma.chud.gaibibi ko pati ne apne upar beatha ke bur or chuchi ko chudaiAntarvasna budhe ne jabarjsti chodaसेक्सी कथा मा मीDesi new chutdost ki ma gangbang hindi story hindiघदि कि सुदाईstrapon se gand chudai hindi sex stories2018 ka six antrvsna hand maek. reshmi. chudai. Ka. ehasasअकेले घर में पड़ोस की लड़की को बहाने Sex storyantarvasna दीदी की sopingmavshi sex hidistoribhabhe ni apani divar si choduayaXXNX कहानी हिनदी मै पढनै कै लिएBhabhi ke sath dhokha Viagra lund chut gandअन्तर्वासना हिंदी ट्रैन मmaa chudi gundo se hindi s sex storyसेक्सी चूतwww antarvasnasexstories com bhai bahan bhola bhai chudakkad bahankalhe chut sax vTaaihindisexstorydivali मील didh की gand मारीमौसीजी ने तेल लगा के सेक्स किया हिंदी स्टोरीबीबी को मेरा डर नही चुदवा लेती है सामने हिंदी कहानीचुदीअंकल से Nakhreli Mami ki chut chodai khaniantarvasana usha kichudai sat dinडॉक्टर रश्मि की चालाकी -2 sexy stories माँ बेटे की चुदाई कहानियाँ दिखाएआंटी के गानों की आंटी की चूतmumiy ke chudai uncal ne ke sax storisardiyo me babuji se chudwayabari didi ne apne bhanje se chudwai xxx porn vdoबुर चुदी मोटे मोटे लनडो से अकेली मेरी बहन और तीन मोटे लनड बुर चुदाई की कहानीजबर्दस्ती सेक्स करें कि हिंदी स्टोरी गलियों वालीManju Bhabhi ke sath suhagrat xstori maa aur ankal najayaj sambandh antervasna.comhindi sexi kahani jamidar ki betiGarndmari.behen.ki.hindi.meघर पर कोई नहीं था बहन के साथxxxxxx video काकी की गाड़ मै मजामेरा पति दूसरी औरतो को चोदना चाहता मै उनके दोस्तों से चुदू